विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक बेचे ही जा रहे हैं। फिर भी कुछ दिन से बाज़ार बढ़ रहा है। लेकिन निफ्टी-50 अब भी अपने शिखर से 10% से ज्यादा नीचे है। सबसे दिमाग में यही सवाल नाच रहा है कि आखिर बाज़ार की तलहटी क्या होगी, जहां से वह पलटकर उठने लगेगा? जब हो जाएगा, तब इसका पता चलेगा। अभी तो इसका सटीक जवाब किसी के भी पास नहीं है। जो है वो केवल कयासबाज़ी है। फिर भी इंसानऔरऔर भी