आज से चालू वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी छमाही शुरू हो रही है। असल में इसमें भी अक्टूबर तिमाही को कंपनियों के साथ ही सरकार व समूची अर्थव्यवस्था के लिए काफी अच्छा माना जाता है। उपभोक्ता उत्पाद बनानेवाली कंपनियों को यकीन रहता कि त्योहारी सीजन होने के नाते इस तिमाही में उनके माल खूब बिकेंगे। सरकार को पूरे साल में जितना उधार जुटाना होता है, रिजर्व बैंक उसके बड़े हिस्से का इंतजाम कर चुका होता है। विदेशीऔरऔर भी