एमसीएक्स लिस्टिंग पर दे सकता है 40% से ज्यादा

एमसीएक्स की लिस्टिंग शुक्रवार 9 मार्च को रही है। शेयरों का आवंटन, मूल्य दायरे के ऊपरी छोर 1032 रुपए पर किया गया है। खुद एमसीएक्स और उसकी प्रवर्तक कंपनी फाइनेशियल टेक्नोलॉजीज में खुशियां छाई हुई हैं। लिस्टिंग के दौरान सेबी के नए नियम के मुताबिक 9 से 10 बजे तक इसमें एक घंटे का प्री-ओपन सेशन होगा जिसमें बोलियों के माध्यम से इसका मूल्य खोजा जाएगा। इस दौरान कोई सर्किट सीमा नहीं होगी। लेकिन फिर 10 बजे से शाम 3.30 बजे तक उस पर 20 फीसदी की सर्किट सीमा लगी रहेगी।

जानकारों ने हिसाब लगाया है कि प्री-ओपन सेशन में एमसीएक्स का संतुलन मूल्य 1350 रुपए के आसपास रह सकता है। इस तरह इश्यू मूल्य से निवेशक को 318 रुपए वहां ज्यादा मिल सकते हैं। इसके बाद बहुत बढ़ा तो इसके ऊपर 20 फीसदी, यानी 270 रुपए और। यानी, निवेशक 1032 पर अधिकतम 588 रुपए का मुनाफा, 56.9 फीसदी रिटर्न कमा सकता है। लेकिन अब तक आईपीओ में लिस्टिंग के दिन कई-कई गुना लाभ कमानेवाले एचएनआई, हो सकता है कि सेबी के नए नियम के इस आगाज़ से खुश न हों। हालांकि आम निवेशकों के लिए तो यह अच्छा ही है।

मालूम हो कि एचएनआई दो लाख रुपए से ज्यादा लगानेवाले व्यक्तिगत निवेशक हैं। एमसीएक्स का आईपीओ कुल मिलाकर 54 गुना सब्सक्राइब हुआ था। लेकिन एचएनआई या गैर संस्थागत निवेशकों का हिस्सा 150 गुना से ज्यादा सब्सक्राइब हुआ था। आमतौर पर एचएनआई उधार लेकर आईपीओ में धन लगाते हैं। मान लीजिए 16 फीसदी ब्याज पर उन्होंने धन उठाया हो तो प्रति शेयर उनकी लागत 165 रुपए आती है। अगर एमसीएक्स का शेयर 588 रुपए भी बढ़ गया तो एचएनआई को ब्याज चुकाने के बाद 423 रुपए यानी, लगभग 41 फीसदी का रिटर्न मिलेगा। यह आमतौर पर काफी अच्छा है। लेकिन लालच की कोई सीमा तो होती नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.