3% खेतों में ही जैव-उर्वरकों का उपयोग

किसी समय हमारे किसान देसी खाद का ही इस्तेमाल करते थे। लेकिन रासायनिक उर्वरकों के बढ़ते और पशुपालन के घटते चलन ने इसे खत्म कर दिया। इस समय देश में कुल कृषियोग्‍य भूमि के 3% से कम भाग में जैव-उर्वरकों का उपयोग होता है। वह भी पहले से बढ़ने के बाद। जैव-उर्वरकों का कुल उत्‍पादन वित्‍त वर्ष 2008-09, 2009-10 और 2010-11 में क्रमशः 25,065 टन, 20,040 टन और 37,998 टन रहा है। सरकार इधर राष्ट्रीय कृषि विकास योजना जैसे कई कार्यक्रमों के जरिए जैव-उर्वरकों के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.