फरवरी में कमान मंदडियों के हाथ!

आज, शुक्रवार को डॉलर की विनिमय दर दोपहर ढाई बजे के आसपास 49.44 रुपए तक चली गई। याद कीजिए कि दिसंबर 2011 में मैंने रुपए के बारे में क्या कहा था। मैंने कहा था कि रुपया जनवरी में ही डॉलर के सापेक्ष 50 से नीचे चला जाएगा, जबकि दिग्गज लोग लिखित रिपोर्ट जारी कर रहे थे कि वो 58 रुपए पर पहुंच जाएगा। यह सच महज रुपए पर ही नहीं, तमाम स्टॉक्स पर भी लागू हो जाता है। डाउनग्रेड के शिकार हुए बहुतेरे स्टॉक्स बहुत तेजी से बढ़े हैं। इससे उक्त रिपोर्टें जारी करनेवाले लोगों की ईमानदारी व निष्ठा पर सवालिया निशान लग गया है। इसलिए मुझे अब लगता है कि आपको फ्री-रिसर्च और पेड-रिसर्च पर वाजिब फैसला करने की समझ आ गई होगी। इससे यह भी साबित होता है कि कुछ लोग निजी लाभ के लिए मुद्रा की चाल से छेड़छाड़ करते हैं। रिजर्व बैंक इनकी हरकत को रोकने में नाकाम रहा है, बशर्ते खुद ही उसकी दिलचस्पी रुपए को चुपचाप गिराने में न रही हो।

हमने हर बार साबित किया है कि रिसर्च में हम सर्वश्रेष्ठ हैं। दिसंबर में बाजार में आम धारणा भारी बढ़त की थी। हमने कहा कि ऐसा नहीं होगा। जनवरी में सभी लोग बड़े करेक्शन की उम्मीद कर रहे थे। हमने कहा, नहीं और निफ्टी 11 फीसदी बढ़ गया। फरवरी के बारे में हमारी बड़ी स्पष्ट राय है कि अगर निफ्टी दो दिनों के लिए 200 दिनों के मूविंग औसत (डीएमए) को टिकाए रख सका तो यह बहुत तेजी से 5350 व 5450 तक पहुंच सकता है और यह इसके 6400 तक पहुंचने की राह खोल देगा। निफ्टी आज तीन बजे के आसपास 5217 की ऊंचाई तक जाकर 5204.70 पर बंद हुआ है। यह बुधवार, 25 जनवरी के बंद स्तर से 0.90 फीसदी ज्यादा है।

अगर अगले दो दिनों में बाजार निर्णायक तौर पर 200 डीएमए यानी 5208.33 को पार कर लेता है तो सारे शॉर्ट-सेलर मंदी की पोजिशन छोड़कर तेजी का खेमा पकड़ लेंगे। पी-नोट की शॉर्ट कवरिंग, खाड़ी देशों की खरीद और सेटलमेंट में कार्टेल की तरह काम करनेवाले ऑपरेटरों ने निफ्टी को 5200 के ऊपर पहुंचा दिया है। भरोसे की कमी के चलते निवेशकों व ट्रेडरों की भागीदारी बेहद कम रही और वे बराबर महसूस करते कि वे पीछे छूट गए हैं। मैंने आगाह किया था कि ऐसा होने जा रहा है। अब पूरा बाजार खरीद की कॉल्स पर किलकारी मार रहा है। हर कोई बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने लगा है। सावधान! यह सिलसिला एक और तेज गिरावट और आपकी भरी जेब को खाली करने का सबब बन सकता है।

हाल-फिलहाल लगता है कि फरवरी में मंदड़िए कमान संभाल लेंगे क्योंकि निफ्टी में 600 अंकों की रैली बिना किसी करेक्शन के आई है और सेटलमेट के अंत के साथ अंतर उस्तादों की जेब में जा चुका है। अब नए महीने के सेटलमेंट में नया खेल होगा। संभवतः पहले दिन के पहले शो में झूठा बाजार पैदा करने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) को साधन बनाया गया है। 870 रुपए के बायबैक मूल्य पर इस स्टॉक के 830 रुपए तक भी जाने का कोई तुक नहीं है। फिर भी इसमें एक झूठी सनसनी पैदा कर दी गई।

रिलायंस आज बीएसई में 825 रुपए तक ऊपर जाने के बाद 817.60 रुपए पर बंद हुआ है, वहीं एनएसई में 827.90 तक उठने के बाद 820.40 रुपए पर बंद हुआ है। कैश सेगमेंट में आरआईएल के 821 रुपए के पार जाते ही बाजार के लोग इसमें लांग हो गए। उन्होंने ट्रेड की दिशा शॉर्ट से बदलकर लांग कर ली है। बाकी खेल आप खुद समझ सकते हैं।

अगर निफ्टी 200 डीएमए को पार करने और उसे टिकाए रखने में नाकाम रहता है तो वह पहले 5035 तक गिरेगा और फिर 4910 तक। यहां तक कि इसके 4800 तक जाने की आशंका को नकारा नहीं जा सकता। यदि ऐसा हुआ तो कम से कम 30 से 40 स्टॉक्स 30 फीसदी से ज्यादा गिर सकते हैं जिसकी वजह अब आप अच्छी तरह जानते हैं।

फरवरी में इधर-उधर के स्टॉक्स निफ्टी से बेहतर प्रगति दिखाएंगे जबकि अगली पंक्ति के स्टॉक्स निफ्टी से पिछड़ जाएंगे। विदेशी बाजारों में आसन्न करेक्शन, उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव और आम बजट नए महीने में बाजार को खींचकर पीछे ले जानेवाले प्रमुख कारक होंगे।

हमारी रणनीति सतर्क रहने की है क्योंकि एकतरफा बढ़त कभी भी स्वस्थ नहीं होती और जोड़तोड़ के खेल में फंसने के अंदेशे से इनकार नहीं किया जा सकता। इसलिए किनारा पकड़ना बेहतर होगा। अगर आप जोखिम उठा सकते हैं तो शॉर्ट रहिए। केवल उन्हीं स्टॉक्स में लांग रहिए जिनमें कोई न कोई ट्रिगर हो, लेकिन वहां भी पक्का स्टॉप लॉस लगाकर।

जब भी दुनिया आप पर गुलाब की पंखुड़ियां बरसाए और आप बागबाग होकर फूले न समाएं, तब आपको पक्के तौर पर सावधान हो जाना चाहिए।

(चमत्कार चक्री एक अनाम शख्सियत है। वह बाजार की रग-रग से वाकिफ है। लेकिन फालतू के कानूनी लफड़ों में नहीं पड़ना चाहता। इसलिए अनाम है। वह अंदर की बातें आपके सामने रखता है। लेकिन उसमें बड़बोलापन हो सकता है। आपके निवेश फैसलों के लिए अर्थकाम किसी भी हाल में जिम्मेदार नहीं होगा। यह मूलत: सीएनआई रिसर्च का कॉलम है, जिसे हम यहां आपकी शिक्षा के लिए पेश कर रहे हैं)

2 Comments

  1. SIRJI, YOU R REALY GREAT COMMENT HERE. AAP WAKE ME BAHUT ACHA LIKTE HE OR HAAR INVESTOR KO SAVDHAN KARTE HE, AAP KI COMMENT WAKE ME ACHA LAGTA HE, OR ME HAR AP KE CHANE WALE KO AAP KA MSG SEND KARTA HU,

    AAP KA ME BAHUT BADA FAN HO GAYA HU, AAP KA PERSONAL ID HAME SEND KARE,

  2. सर आप तो CHAMPION हो क्या बढिया जानकारी देते हो आप।

Leave a Reply

Your email address will not be published.