वैश्विक स्तर पर कृषि उत्पादन घटने का डर

वैश्विक कृषि उत्पादन की वृद्धि दर पिछले दशक के 2.6 फीसदी के मुकाबले चालू दशक में घटकर 1.7 फीसदी रहने का अनुमान जताया गया है। तिलहन व अनाज के उत्पादन में कमी के चलते वैश्विक खाद्यान्न उत्पादन घटने की आशंका है।

आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन (ओईसीडी) और खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) द्वारा जारी एक संयुक्त कृषि परिदृश्य के मुताबिक, अल्पकाल में हालांकि कृषि उत्पादन बढ़ेगा। ओईसीडी-एफएओ की रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘वैश्विक कृषि उत्पादन सालाना 1.7 फीसदी की औसत दर से बढ़ने का अनुमान है, जबकि पिछले दशक में यह दर 2.6 फीसदी थी।

रिपोर्ट के मुताबिक, अधिक उत्पादन लागत व उत्पादकता की वृद्धि दर में गिरावट की वजह से ज्यादातर फसलों विशेषकर तिलहन व मोटे अनाज के उत्पादन की वृद्धि दर धीमी रहने की संभावना है। धीमी वृद्धि दर के बावजूद प्रति व्यक्ति उत्पादन सालाना 0.7 फीसदी की दर से बढ़ने का अनुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.