सस्ता है रिलायंस इंफ्रा तलहटी पर

बाजार जब तलहटी पर पहुंचा हो तब अच्छे स्टॉक्स के चयन के लिए ज्यादा मगजमारी या रिसर्च की जरूरत नहीं होती। नजर डालें कि कौन-कौन से शेयर अपने न्यूनतम स्तर पर पहुंचे हैं। देखें कि वह कंपनी कितनी जानी पहचानी है, थोड़ा-सा उसका धंधा-पानी देख लें और दांव लगा दें। कल अनिल अंबानी समूह की दो प्रमुख कंपनियां रिलायंस कैपिटल और रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर 52 हफ्ते के न्यूनतर स्तर पर पहुंच गईं। इनमें से रिलायंस कैपिटल में निवेश के बारे में मैं सलाह नहीं दे सकता क्योंकि इसका शेयर इतना गिरने के बावजूद 51.18 के पी/ई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है। लेकिन रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर (बीएसई – 500390, एनएसई – RELINFRA) जरूर मुझे निवेश के काबिल लग रहा है।

पहली बात कि यह भारत की सबसे बड़ी इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी है। बिजली उत्पादन से लेकर वितरण व बेचने तक का काम करती है। 941 मेगावॉट बिजली बनाती है। मुंबई के कई इलाकों में बिजली बेचती है। इसके अलावा ईपीसी (इजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट व कंस्ट्रक्शन का काम करती है। सड़क व हाईवे से लेकर मेट्रो रेल व एयरपोर्ट तक के निर्माण में सक्रिय है। कंपनी मुंबई व दिल्ली में तीन मेट्रो रेल परियोजनाओं पर काम कर रही है जिनकी लागत करीब 16,000 करोड़ रुपए है। यह अनिल अंबानी की शायद सबसे मजबूत आधार पर खड़ी कंपनियां है। बाकी तो उनकी सभी कंपनियां हवा-हवाई ज्यादा लगती हैं।

रिलायंस इंफ्रा में नोट करने की बात यह भी है कि उसके शेयर का भाव कल बीएसई में 677 रुपए का न्यूनतम स्तर छूने के बाद 683.45 रुपए पर बंद हुआ है, जबकि शेयर की बुक वैल्यू ही 620.24 रुपए है। दूसरे, कंपनी का ठीक पिछले बारह महीनों का ईपीएस (प्रति शेयर शुद्ध लाभ) 35.34 रुपए है। इस तरह उसका शेयर फिलहाल 19.34 के पी/ई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है।

जानते हैं कि रिलायंस पावर अभी कितने पी/ई पर ट्रेड हो रहा है? 131.30 पर क्योंकि कंपनी की ईपीएस मात्र 98 पैसे है। रिलायंस कम्युनिकेशंस तो घाटे में चल रही है। इसलिए उसके किसी पी/ई का सवाल ही नहीं उठता है। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर (आरआईआईएल) के शेयर का पी/ई अनुपात 36.09 है। हां, रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) जरूर आकर्षक स्तर पर है क्योंकि उसका शेयर 15.37 के ही पी/ई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है। इसलिए रिलायंस के टैग वाला कोई शेयर यानी रिलायंस इंफ्रा अगर 19.34 के पी/ई पर मिल रहा है तो अच्छा ही है न!

Leave a Reply

Your email address will not be published.