सतह से उठेगा लॉयड इलेक्ट्रिक

लॉयड इलेक्ट्रिक एंड इंजीनियरिंग (बीएसई कोड-517518) की प्रति शेयर बुक वैल्यू 136.15 रुपए है। लेकिन बाजार में दस रुपए अंकित मूल्य के उसके शेयर का ग्राफ नीचे ही नीचे जा रहा है। कल यह बीएसई में 3.07 फीसदी गिरकर 77.25 रुपए और एनएसई में 3.50 फीसदी गिरकर 77.10 रुपए पर बंद हुआ है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2009-10 में 680.81 करोड़ रुपए की आय पर 39.17 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया है और उसका सालाना ईपीएस (प्रति शेयर लाभ) 12.63 रुपए है। कंपनी ने इस साल जून की पहली तिमाही में 211.17 करोड़ रुपए की आय पर 11.85 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हासिल किया है।

उसका ठीक पिछले 12 महीनों (टीटीएम) का ईपीएस 13.13 रुपए है और उसका शेयर केवल 5.88 के पीई अनुपात पर ट्रेड हो रहा है। कंपनी की बिक्री और लाभ में बराबर इजाफा हो रहा है। बीएसई के बी ग्रुप में शामिल इस स्टॉक में कारोबार भी ठीकठाक होता है। पिछले दो हफ्ते का औसत कारोबार 97,000 शेयरों का रहा है, लेकिन कल इसके 1.01 लाख शेयरों में ट्रेडिंग हुई है। एनएसई में भी 1.46 लाख शेयरों के सौदे हुए हैं। शेयर क्यों दबा हुआ है, नहीं पता। लेकिन पीई और बुक वैल्यू के आधार पर तो यह मजबूत व संभावना से भरा नजर आता है। शेयर ने इसी साल 19 जुलाई को 92.65 रुपए का शिखर चूमा है, जबकि साल भर पहले 21 अगस्त 2009 को यह 40.30 रुपए की तलहटी पर था।

कंपनी की चुकता पूंजी 31 करोड़ रुपए है जिसमें प्रवर्तकों का हिस्सा 34.62 फीसदी, एफआईआई का 12.86 फीसदी और डीआईआई का 5.25 फीसदी है। कंपनी के कुल शेयरधारकों की संख्या 21,549 है, जिसमें से कंपनी की एक फीसदी से ज्यादा इक्विटी रखनेवाले शेयरधारक सात हैं। इनमें से कोटक इंडिया फोकस फंड के पास 6.22 फीसदी, जेनिथ इनपेक्स के पास 9.57 फीसदी और मॉरगन स्टैनली मॉरीशस के पास 5.63 फीसदी शेयर हैं।

कंपनी एसी और रेफ्रिजरेशन में इस्तेमाल होनेवाले हीट एक्सचेंजर कॉयल के साथ-साथ रेल कोच एयरकंडीशनिंग यूनिट और विंडो व स्प्लिट एसी भी बनाती है। भिवाडी (राजस्थान) और काला अम्ब (हिमाचल प्रदेश) में उसकी उत्पादन इकाइयां हैं। वोल्टाज व ब्लू स्टार समेत देश के लगभग सभी एसी निर्माताओं की वह ओईएम (ओरिजनल इक्लिपमेंट मैन्यूफैक्चरर) सप्लायर है। 1988 में बनी यह कंपनी लगातार आगे बढ़ रही है और उसकी ऑर्डर बुक अच्छी चल रही है। कंपनी के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक ब्रिज राज पुंज हैं।

आखिर में इतनी-सी बात कि इधर बिजनेस चैनलों के अलावा हर दिन एसएमएस के जरिए इतने टिप्स मिल रहे हैं कि कोई भी परेशान हो जाएगा। ऐसे में अक्सर लगता है कि हर दिन किसी एक शेयर के बारे में लिखने का कोई मतलब भी है कि नहीं। वैसे, अपनी तरफ से मैं कोई टिप्स नहीं देता, बल्कि कोशिश रहती है कि हर दिन किसी नई कंपनी से आपका परिचय करा दूं। फिर, उससे दोस्ती बनाना, न बनाना आपका काम है।

बाजार की कुछ और चर्चाएं इस प्रकार हैं कि आईटीसी 350 करोड़ रुपए में आरडीबी इंडस्ट्रीज को खरीदने जा रही है। चीनी कंपनियों के शेयरों में बहार आने को है। बजाज हिंदुस्तान में खास लहर की संभावना है। बाजार में काला पत्थर के नाम से चर्चित विदेशी फंड ब्लैक स्टोन सेंचुरी टेक्सटाइल में 900 रुपए के लक्ष्य के साथ घुस रहा है। धामपुर स्पेशयलिटी शुगर में निचला सर्किट लगने की नौबत आ गई है। लेकिन यह ऑपरेटरों का खेल है। सोमवार को एक बड़े ऑपरेटर ने इसके दो लाख शेयर खरीदे हैं। इस शेयर पर जल्दी ही अपर सर्किट लगनेवाला है। रामसरूप इंडस्ट्रीज पर नजर रखिए। इसमें बड़ी डील होनेवाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.