हर किसी का अलग बैक्टीरिया बादल!

हम में से हर कोई ऐसे बैक्टीरिया का झुंड या बादल लिए चलता है जो आपस में इतना अलग है कि उंगलियों के निशान या पुतलियों की बनावट की तरह हमारी पहचान का माध्यम बन सकता है। यह बात अमेरिका के ओरेगॉन विश्वविद्यालय की एक रिसर्च रिपोर्ट से सामने आई है। इस रिपोर्ट के मुख्य लेखक जेम्स मीडो का कहना है, “हमें उम्मीद थी कि हमें किसी व्यक्ति के आसपास धूल और उसके शरीर व कपड़ों से निकलने वाली गंध से ताल्लुक रखनेवाले माइक्रोब्स मिल जाएंगे। लेकिन हम तब अचंभित रह गए जब हमने पाया कि किसके इर्दगिर्द कौन से बैक्टीरिया हैं, इससे उस व्यक्ति की पहचान हो सकती है।”

शोधकर्ताओं ने पाया कि लोगों के ‘क्लाउड’ में पाए जानेवाले बैक्टीरिया के मुख्य प्रकार इंसानों से संबंधित बैक्टीरिया हैं। जैसे, स्ट्रेप्टोकोकस जो मुंह में पाया जाता है और प्रोपियोनिबैक्टिरियम व कोराइनबैक्टेरियम जो शरीर की त्वचा पर पाए जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.