अमेरिका तक में महिलाओं को पुरुषों से कम वेतन

दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिकी में बड़ी संख्या में कामकाजी महिलाओं का मानना है कि उन्हें उनके पुरूष समकक्षों के मुकाबले कम वेतन मिलता है। भले ही अनुभव और दक्षता के मामले में वे उनके बराबर ही क्यों न हों।

रोजगार के बारे में जानकारी देने वाली वेबसाइट कैरियल बिल्डर के सर्वे में 38 फीसदी महिला कर्मचारियों का मानना है कि उन्हें पुरूष समकक्षों के मुकाबले कम वेतन मिलता है। इससे पहले वर्ष 2008 में किए गए सर्वे में 34 फीसदी महिलाओं ने इस प्रकार की राय जाहिर की थी। इसके अलावा 28 फीसदी कामकाजी महिलाओं ने कहा है कि संगठन के भीतर पुरूषों के लिए आगे बढ़ने के ज्यादा अवसर होते हैं। वर्ष 2008 में 26 फीसदी महिलाओं ने इस प्रकार की राय जाहिर की थी।

वेतन के मामले में 45 फीसदी पुरूषों ने कहा कि उन्हें 50,000 डॉलर या इससे अधिक वेतन मिलता है जबकि महिलाओं में 24 फीसदी ने इतना पारिश्रमिक मिलने की बात कही। दस फीसदी पुरूषों ने कहा कि उन्हें 100,000 डॉलर से अधिक वेतन मिलता है जबकि केवल 3 फीसदी महिला कर्मचारियों ने कहा कि उन्हें इतना पारिश्रमिक मिलता है।

पदों के मामले में सर्वे में 30 फीसदी पुरूष कर्मचारियों ने कहा कि वे प्रबंधन स्तर पर काम कर रहे हैं। वहीं महिलाओं के मामले में 21 फीसदी कर्मचारियों ने ऐसी राय जाहिर की। यह सर्वे दिसंबर 2010 में ऑनलाइन किया गया जिसमें 2274 पुरूष और 1636 महिला कर्मचारियों ने भाग लिया।

कैरियर बिल्डर की उपाध्यक्ष (मानव संसाधन) रोजमैरी हैफनेर ने कहा, ‘‘कई कंपनियां महिला-पुरूष कर्मचारियों के बीच समानता के लिए काम कर रही हैं लेकिन अभी भी विषमता बरकरार है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.