चांदी नए आसमान पर, पचास हजार के करीब

चांदी के भाव रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बनाते जा रहे हैं। मंगलवार, 22 फरवरी को देश के तमाम सराफा बाजारों में चांदी के भाव बढ़ गए। राजधानी दिल्ली में तो चांदी (.999) के भाव 49,700 रुपए प्रति किलो पर पहुंच गए। यह भारत में अब तक का ऐतिहासिक शिखर है। अंतरराष्ट्रीय बाजार की बात करें तो चांदी का भाव इस समय 34.31 डॉलर प्रति औंस (31.1034 ग्राम) पर पहुंच गया है जो 1980 के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है।

चांदी की इस तेजी की खास वजह मिस्र के बाद मध्य-पूर्व और उत्तरी अफ्रीका के कई देशों में मची राजनीतिक अशांति है। साथ ही घरेलू बाजार में शादी के सीजन की मांग का भी इसमें योगदान है। सोना भी इसी रफ्तार से बढ़ रहा है। असल में सोने व चांदी को सुरक्षित निवेश माना जाता है। इसीलिए मुद्रास्फीति के बढ़ने से लेकर राजनीतिक व आर्थिक अनिश्चितता के दौर में निवेशक इन धातुओं में निवेश बढ़ा देते हैं।

लेकिन भारत जैसे देशों में सोने व चांदी के भाव डॉलर के सापेक्ष स्थानीय मुद्रा की विनिमय दरों से भी प्रभावित होते हैं। इसलिए लंबे समय के निवेशकों को इसमें पैसा लगाते समय डॉलर की दरों के ऐतिहासिक ग्राफ व मौजूदा स्थिति पर भी नजर डाल लेनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.