24 घंटे लॉकर की सुविधा दुनिया में पहली बार

आईडीबीआई बैंक ने दुनिया में पहली बार 24 घंटे सातों दिन की लॉकर सुविधा शुरू की है। बैंक के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक आर एम मल्ला ने सोमवार को मुंबई की कफ परेड, कोलाबा शाखा में इसकी शुरुआत करते हुए कहा कि देश की बात छोड़िए, पूरी दुनिया में अभी तक कहीं भी एनी टाइम लॉकर (एटीएल) की सुविधा नहीं है। उन्होंने कहा कि कुछ बैंक जरूर रोजमर्रा के बैंकिंग अवधि से कुछ समय ज्यादा तक लॉकर की सुविधा देते हैं, लेकिन 24 घंटे की सुविधा कोई नहीं देता। उनका कहना था कि जिस तरह एटीएम (एनी टाइम मनी) की सुविधा व्यापक लोकप्रियता हासिल कर चुकी है, वैसे ही हो सकता है कि किसी दिन एटीएल का भी विस्तार हो जाए।

श्री मल्ला ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि इससे ग्राहकों को फायदा यह होगा कि मान लीजिए कि 9 बजे रात को उन्हें किसी समारोह में जाना है तो वे 7-8 बजे अपने लॉकर में आकर जेवरात निकाल लेंगे और लौटते समय घर जाने से पहले 1 बजे दोबारा लॉकर में डाल देंगे। इस लॉकर सुविधा में ग्राहक के बायोमेट्रिक डाटा का इस्तेमाल किया जाएगा। अभी उसकी उंगलियों के निशान को पहचान कर लॉकर रूम का दरवाजा खुलेगा। बाद में इसमें उसकी आंख की पुतली या आइरिश की जानकारी भी इससे जोड़ दी जाएगी।

आईडीबीआई बैंक के सीएमडी ने बताया कि बैंक जल्दी ही देश के दूसरे महानगरों में भी यह सुविधा शुरू कर देगा। हालांकि इसके लिए उन्होंने किसी निश्चित समयावधि की घोषणा नहीं की। उनका कहना था कि इससे अमीर व्यक्तियों के अलावा कॉरपोरेट व बिजनेस समुदाय की जरूरतें पूरी हो सकेंगी, जिन्हें 24×7 लॉकर की सुविधा चाहिए होती है। उनके मुताबिक अत्याधुनिक सुरक्षा वाले ये लॉकर 15 अगस्त, 26 जनवरी या 2 अक्टूबर जैसे राष्ट्रीय अवकाश के दिनों में ही बंद होंगे, बाकी पूरे साल भर 24 घंटे खुले रहेंगे। चूंकि लॉकर की सुविधाएं उच्च वर्ग के लिए हैं, इसलिए इनका शुल्क भी संभवतः उसी हिसाब से ज्यादा होगा।

1 Comment

  1. indian bank M N C bank ane ke baat hi sudhre hai

Leave a Reply

Your email address will not be published.