हफ्ते भर में चहक उठेगा एसबीआई

अमेरिकी बाजार के 300 अंक गिरने से हर किसी के मन में डर भर गया था कि बाजार आज भारी डुबकी लगाकर खुलेगा। सो, ट्रेडर शुरुआत में ही शॉर्ट हो गए। लेकिन जैसा कि मैंने आपको बताया था कि बाजार ने निफ्टी में 5210 के आसपास सहारा हासिल किया और बहुत तेजी से पलटकर 5300 तक जा पहुंचा। ट्रेडरों ने कभी इसकी कल्पना तक नहीं की थी। फिलहाल निफ्टी कमोबेश कल के बराबर ही रहा है। निफ्टी में 5550 से 5700 का मेरा लक्ष्य अक्षत है। यह आनेवाले हफ्तों में मुद्रास्फीति में गिरावट से हासिल हो सकता है। साथ ही संसद का शीतसत्र माहौल को खुशगवार बनाएगा क्योंकि उस दौरान कई प्रमुख लंबित मसले निपट सकते हैं।

जेट एयरवेज में तेजी की धारणा लाने में हम सबसे आगे रहे हैं। हमेशा की तरह हमारी कॉल के बाद स्टॉक में गिरावट आई क्योंकि नतीजों ने घाटे का खुलासा किया और पंटर लोगों को शॉर्ट सौदे करने का अच्छा आधार मिल गया। लेकिन किराए बढ़ने की अपेक्षा ने इस सेक्टर को आकर्षक बना दिया है। ऊपर से विदेशी एयरलाइंस को सीधे इक्विटी लगाने की इजाजत कभी भी दी जा सकती है। वैसे भी अभी जिस तरह का मूल्यांकन चल रहा है, उसमें यहां कुछ खोने को है नहीं। इसलिए दूसरी तिमाही में घाटे के बावजूद इस सेक्टर के स्टॉक्स में तेज उछाल आना है क्योंकि घाटे की बात को बाजार पचा चुका है। स्पाइसजेट और जेट एयरवेज मेरे पसंदीदा स्टॉक्स हैं। जेट एयरवेज आज 1.15 फीसदी और स्पाइसजेट 6.51 फीसदी बढ़ा है।

सिम्फनी से आखिरकार 1450 रुपए की बाधा तोड़ दी और 7.63 फीसदी बढ़कर 1472.80 रुपए पर पहुंच गया है। आप अगले हफ्ते इसे 1600 रुपए और अगले तीन महीने में 2000 रुपए पर पहुंचा हुआ देख सकते हैं। साथ ही वीआईपी इंडस्ट्रीज का अध्याय फिलहाल समाप्त होता दिख रहा है क्योंकि मजबूत होती चीनी मुद्रा युआन और कमजोर होते रुपए के चलते कंपनी की अगली तिमाही भी खराब रहनी है। कमजोर अर्थव्यवस्था वीआईपी इंडस्ट्रीज के चेयरमैन के इस दावे का साथ नहीं देती कि मूल्य वृद्धि को संभाल लिया जाएगा। इसलिए जब तक यह स्टॉक 120 रुपए तक नहीं गिर जाता, तब तक इससे दूर रहें। आज यह 3.41 फीसदी गिरकर 167.25 रुपए पर बंद हुआ है। यह 160 रुपए के नीचे पहुंचने पर टेक्निकल स्तर पर भी कमजोर हो जाएगा और इसमें उसी तरह मंदड़ियों की मौज हो जाएगी, जैसे इस समय एस्कोर्ट्स में तेजड़िए की मौज आई हुई है। एस्कोर्ट्स आज 4.70 फीसदी बढ़कर 89.10 रुपए पर बंद हुआ है।

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) 9 नवंबर को सितंबर तिमाही के नतीजों की घोषणा करनेवाला है। यकीन मानिए देश के इस सबसे बड़े बैंक के नतीजे वाकई जबरदस्त और बाजार की उम्मीद से बेहतर होंगे। आशा है कि नतीजों के आने पर एसबीआई 2100 से 2200 रुपए के पार चला जाएगा, उसी तरह जैसा इनफोसिस में हो चुका है। तब इसकी री-रेटिंग और पोर्टफोलियो में शामिल करने की सलाहें आनी शुरू हो जाएंगी। याद करें कि हमारे अलावा कौन था जो आइडिया सेलुलर में 47 रुपए पर तेजी का परचम लहरा रहा था। अभी यह 103.65 रुपए तक जाने के बाद 93.90 रुपए पर टिका हुआ है।

खैर, एस्कोर्ट्स के बाद अब हम हिंदुस्तान ऑयल, हिंडाल्को, सेसा गोवा, टाटा स्टील व जिंदल सॉ पर भारी दांव लगा रहे हैं जहां उस्तादों के बीच सक्रियता शुरू हो चुकी है। ये सभी स्टॉक्स अपेक्षित फायदा कराने से चूकेंगे नहीं।

जो आज्ञा का पालन नहीं कर सकता, वह कभी आज्ञा दे नहीं सकता।

(चमत्कार चक्री एक अनाम शख्सियत है। वह बाजार की रग-रग से वाकिफ है। लेकिन फालतू के कानूनी लफड़ों में नहीं पड़ना चाहता। इसलिए अनाम है। वह अंदर की बातें आपके सामने रखता है। लेकिन उसमें बड़बोलापन हो सकता है। आपके निवेश फैसलों के लिए अर्थकाम किसी भी हाल में जिम्मेदार नहीं होगा। यह मूलत: सीएनआई रिसर्च का कॉलम है, जिसे हम यहां आपकी शिक्षा के लिए पेश कर रहे हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.