वनों को बचाने की मांग उठी राज्यसभा में

वनों की अंधाधुंध कटाई की वजह से देश के वन क्षेत्र में आ रही कमी पर चिंता जाहिर करते हुए राज्यसभा में सरकार से इस दिशा में आवश्यक कदम उठाए जाने की मांग की गई। उल्लेखनीय है कि इसी रविवार को पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश ने कहा था कि देश के 33 फीसदी हिस्से को वनों से ढंकने का लक्ष्य एकदम व्यावहारिक नहीं है। अभी देश के 21 फीसदी हिस्से में वन हैं।

बुधवार को बीजेपी के कलराज मिश्र ने विशेष उल्लेख के जरिये यह मामला उठाते हुए कहा कि वनों की अंधाधुंध कटाई होने के कारण देश का वन क्षेत्र घटता जा रहा है जो पर्यावरण की दृष्टि से अत्यंत चिंताजनक है। उन्होंने सरकार से वनों को बचाए रखने के लिए आवश्यक कदम उठाने और इस बारे में एक नीति बनाए जाने की मांग की।

समुद्री दस्युओं के हमलों की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताते हुए आरजेडी के राजनीति प्रसाद ने जलपोतों को उनसे बचाने के लिए आधुनिक सुरक्षा उपायों की मांग की, जबकि एनसीपी के थॉमस ए संगमा ने देश में औद्योगिक प्रदूषण घटाने के प्रभावी कदम उठाने की जरूरत पर बल दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.