अभी नहीं बढ़ेंगे डीजल व रसोई गैस के दाम

पेट्रोलियम मंत्री एस जयपाल रेड्डी ने संकेत दिया है कि सरकार तुरंत डीजल या रसोई गैस के दाम नहीं बढ़ाएगी, भले ही रुपए में कमजोरी से आयातित कच्चे तेल की लागत बढ़ रही है। उन्होंने गुरुवार को संसद भवन में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा, ‘‘रुपए में कमजोरी ने स्वाभाविक रूप से अप्रत्याशित दिक्कत पैदा कर दी है। इससे वित्त वर्ष 2011-12 में तेल कंपनियों की अंडर रिकवरी 1.32 लाख करोड़ रुपए रहेगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह हम हालात के स्पष्ट होने का इंतजार कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमत और रुपए की स्थिति दोनों के लिहाज से उथल-पुथल है।  इसलिए हम इस संबंध में फैसला लेने से पहले कुछ दिनों तक नजर रखेंगे।’’

रुपया कल अमेरिकी डालर के मुकाबले 52.35 के निम्नतम स्तर पर बंद हुआ। लेकिन आज थोड़ा सुधरकर 52.15 पर आ गया। भारतीय मुद्रा पिछले कुछ महीनों में 45.58 के स्तर से गिरी है जिससे आयात मंहगा हो गया है। देश में कच्चे तेल की जरूरत का 79 फीसदी हिस्सा आयात के जरिए पूरा किया जाता है। रुपए की कमजोरी के बीच सरकारी तेल कंपनियों ने इस महीने पेट्रोल की कीमत 1.80 रुपए बढ़ाई थी। लेकिन बाद में वैश्विक स्तर पर गिरावट के बीच कीमत में 2.22 रुपए प्रति लीटर की कटौती भी की है।

कंपनियों को डीजल पर फिलहाल 10.17 रुपए प्रति लीटर, केरोसिन पर 25.66 रुपए प्रति लीटर और घरेलू गैस पर 260.50 रुपए प्रति सिलिंडर का नुकसान हो रहा है। लेकिन रेड्डी ने कहा कि कीमत में संशोधन के लिए मंत्रिस्तरीय समिति की कोई बैठक नहीं बुलाई गई है। उन्होंने कहा, ‘‘रसोई गैस, केरोसिन और डीजल जैसे संवेदनशील उत्पादों की कीमत पर नजर रखने के लिए अधिकार-प्राप्त मंत्री समूह (वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी की अध्यक्षता वाले) की बैठक बुलाने का कोई फैसला नहीं किया गया है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.