वो लांग पर दबाते, शार्ट पर उठाते हैं

हमने परसों ही कहा था कि बाजार 300 से 350 अंक बढ़ सकता है, जिसकी वजह और कुछ नहीं, बल्कि रोलओवर का दौर होगा। बाजार ने बजट पर बुरी तरह प्रतिक्रिया दिखाई और लोग शॉर्ट करने के चक्कर में पड़ गए। इसलिए बाजार को वापस उठना ही था। निफ्टी आज 90 अंक से ज्यादा बढ़कर 5364.95 पर बंद हुआ है, जबकि निफ्टी फ्यूचर्स का आखिरी भाव 5403.75 रहा है। मुझे अब कोई आश्चर्य नहीं होगा जो निफ्टी फ्यूचर्स इस महीने सेटलमेंट के आखिरी दिन 29 मार्च को 5600 के पार न चला जाए।

हम वाकई यह नहीं समझ पाते कि जिस बाजार में डेरिवेटिव सौदों में फिजिकल सेटलमेंट है नहीं, उसे महज पोजिशन के आधार पर किस कदर इधर या उधर झुलाया जा सकता है। जब बाजार के सारे लोग 5600 पर लांग सौदों में लगे थे, बाजार गिर गया। बजट ने चोट करने का आवश्यक बहाना दे डाला। जब लोग 5170 का मन बना चुके थे, यहां तक कि 4900 के लिए भी तैयार थे, तब शॉर्ट करनेवाले फंस गए और बाजार दनादन बढ़ने लगा।

खैर, यह सब होता रहेगा। फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस (एफ एंड ओ) सेगमेंट में मुफ्त की दावत चल रही है और सारे लोग वहां आकर अपनी किस्मत आजमाते हैं। ड्रॉ 3.30 बजे खुलता है और तब पता चलता है कि ट्रेडर भाग्यशाली विजेता है या नहीं। जो लोग इस बाजार की चाल को समझते हुए चलेंगे, वे धन बनाएंगे। लेकिन जो एक ही पक्ष पकड़कर ट्रेड करेंगे, वे हमेशा नुकसान खाएंगे। तीन इक्कों का विजेता केवल और केवल वही होगा जो हर बढ़त को बेचने के बजाय हर डुबकी को खरीदने के मौके के रूप में इस्तेमाल करेगा।

बॉम्बे डाईंग, सेंचुरी टेक्सटाइल्स, आईएफसीआई, जयप्रकाश एसोसिएट्स और अबन ऑफशोर हमेशा अच्छा जॉबिंग स्प्रेड देंगे, बशर्ते आप निचले स्तरों पर खरीदते हैं। हम लोग इन सभी स्टॉक्स के निचले स्तरों को खरीदने का मौका मानकर चलते हैं और इन्होंने एक दिन में 5 फीसदी से ज्यादा का मुनाफा दिलाया है। मसलन, सेंचुरी टेक्सटाइल्स आज बंद से बंद भाव पर 10.82 फीसदी और बॉम्बे डाईंग 6.11 फीसदी का रिटर्न देकर गया है।

हम इस सीधे सिद्धांत पर काम करते हैं कि जो लोग बिना डिलीवरी के निचले भावों पर दांव लगाते हैं, वे भी बाजार के बढ़ने पर शॉर्ट कवरिंग की भागदौड़ में लग जाते हैं और अगर वे डिलीवरी को, जैसा हमने ऊपर बताया, स्टॉक्स को दबाने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं, तो उन्हें उन स्टॉक्स से हमेशा के लिए हाथ धो देना पड़ेगा। अंतर्निहित मूल्य से नीचे स्टॉक्स को बेचना उनके लिए आत्मघाती साबित होगा।

जोड़तोड़ हमेशा नहीं चलती। साथ ही साथ ज्यादा उधार के दम पर किए गए सौदे आपके स्टॉप लॉस को खा जाते हैं। इसके बजाय आपको एकमुश्त नहीं, बल्कि चार किश्तों में खरीदना चाहिए। और, एक बात आपको निश्चित रूप से पता लगा लेनी चाहिए कि किसी स्टॉक का वाजिब मूल्य क्या है जिसे आप स्वतंत्र रिसर्च रिपोर्टों के बिना नहीं समझ सकते। किसी गफलत में मत रहिए और अपने प्रति ईमानदार बनिए।

हमारी ज़िंदगी तभी सुधरती है जब हम जोखिम उठाते हैं। और, जो पहला और सबसे कठिन जोखिम हम उठा सकते हैं, वो है अपने प्रति ईमानदारी।

(चमत्कार चक्री एक अनाम शख्सियत है। वह बाजार की रग-रग से वाकिफ है। लेकिन फालतू के कानूनी लफड़ों में नहीं पड़ना चाहता। इसलिए अनाम है। वह अंदर की बातें आपके सामने रखता है। लेकिन उसमें बड़बोलापन हो सकता है। आपके निवेश फैसलों के लिए अर्थकाम किसी भी हाल में जिम्मेदार नहीं होगा। यह मूलतः सीएनआई रिसर्च का कॉलम है, जिसे हम यहां आपकी शिक्षा के लिए पेश कर रहे हैं)

1 Comment

  1. pls told me a long term investment share which gives me a handsome return, and share price is less than 20 rs. investment period is min 10 years.

Leave a Reply

Your email address will not be published.