सुपर-30 का जलवा, चुने गए 24 छात्र आईआईटी में

पढ़ाने का सही तरीका क्या कमाल दिखा सकता है, इसका प्रतिमान बन गया है पटना में प्रतिभाशाली गरीब बच्चों को मुफ्त में आईआईटी की तैयारी करवाने वाला संस्थान सुपर-30. इस बार भी आईआईटी की प्रवेश परीक्षा जेईई में से वहां के 30 में से 24 छात्रों को चुन लिया गया है। इस परीक्षा के परिणाम आज, बुधवार को घोषित हुए हैं।

संस्थान के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार ने बताया कि 30 में से 24 विद्यार्थियों को इस बार आईआईटी-जेईई प्रवेश परीक्षा में सफलता हासिल हुई है। नतीजे आशा के अनुरूप रहे। सुपर-30 के विद्यार्थियों ने कहा कि इस बार न्यूनतम उत्तीर्ण अंक 229 किए जाने के कारण प्रतिस्पर्धा काफी कठिन थी।

कुमार ने कहा कि ‘कट ऑफ मार्क’ को लेकर कड़ी प्रतिस्पर्धा के कारण परीक्षा परिणाम थोड़ा प्रभावित हुआ है। संस्थान के छात्रों में सर्वोच्च रैंकिंग (272) बिहार के अभय कुमार को प्राप्त हुई है। जौनपुर (उत्तर प्रदेश) के बैरिस्टर सिंह को 1381वीं रैंक मिली है। उनके पिता किसान हैं। 17 साल के बैरिस्टर सिंह ने कहा कि परीक्षा परिणाम अपेक्षा के अनुरूप रहे हैं।

राजधानी पटना में मीठापुर स्थित आनंद के घर जश्न का माहौल था। तंग और अत्यधिक भीड़भाड़ वाले इस इलाके में मीडियाकर्मियों का हुजूम सुबह से ही लगना शुरू हो गया था। जैसे ही परिणाम घोषित हुए, समूचे शहर में जश्न का माहौल छा गया। आनंद ने कहा कि संस्थान के जो विद्यार्थी प्रवेश परीक्षा में सफल नहीं हो सके हैं, उनका भी भविष्य उज्ज्वल है। उनके लिए मुकाम कई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.