बैंक ऑफ बड़ौदा में 4% चार दिन में

आज बजट का दिन है। 11 बजे से लेकर बजट भाषण खत्म होने तक पूरे बाज़ार के कान इसी पर लगे रहेंगे कि वित्त मंत्री चिदंबरम क्या बोलते हैं। उनकी एक भी नकारात्मक घोषणा बाज़ार का बंटाधार कर सकती है। लेकिन ऐसा होने की गुंजाइश कम है। इधर स्टॉक एक्सचेंज, खासकर बीएसई चाहता है कि जिंसों के सौदों पर कमोडिटी ट्रांजैक्शन टैक्स लगाया जाए। ऐसा होने का पूरा अंदेशा है। पर, शेयर बाजार के लिए माकूल घोषणाएं हो सकती हैं। आज बाज़ार के बढ़ने के आसार ज्यादा हैं। मगर चिदंबरम की ज़रा-सी चूक बड़ी गिरावट का सबब बन सकती है।

निफ्टी की गति

पिछला बंद कल का उच्चतम कल का न्यूनतम कल का बंद समर्थन/बाधा
5761.35 5818.20 5749.70 5796.90 5750/5840

आप जानते ही होंगे कि बैंक ऑफ बड़ौदा प्रमुख सरकारी बैंक है। महीने भर पहले 890-895 पर टहल रहा उसका शेयर गिरते-गिरते अब 722 रुपए तक आ चुका है। कल इसका दस रुपए का शेयर बीएसई में 0.68 फीसदी बढ़कर 731 रुपए और एनएसई में 1.34 फीसदी बढ़कर 736.25 रुपए पर बंद हुआ है। आज फरवरी के डेरिविटिव सौदों की एक्सपायरी है और इसके फ्यूचर्स में अब भी काफी शॉर्ट सौदे कवर किए जाने हैं। इसलिए आज इसे बढ़ना है और अगले तीन-चार दिन में यह 760 रुपए तक पहुंच सकता है। इस तरह स्विंग ट्रेडिंग से इसमें करीब चार फीसदी कमाया जा सकता है।

बैंक ऑफ बड़ौदा (बीएसई 532134, एनएसई – BANKBARODA)

कल का बंद भाव 52 हफ्ते का उच्चतम 52 हफ्ते का न्यूनतम भावी उम्मीद अपेक्षित रिटर्न
731 रुपए 899.65 रुपए 606.25 रुपए 760 रुपए +3.96%

(भाव बीएसई के)

डिस्क्लेमर: शेयर बाजार के निवेश में सबसे ज्यादा रिस्क है। इसलिए निवेश का फैसला पूरी रिसर्च के बाद ही करें। आपके निवेश के लिए हम किसी भी रूप में जिम्मेदार नहीं होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.