एनएमडीसी में एफपीओ से पहले गिरावट

एनएमडीसी का एफपीओ (फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर) बुधवार, 10 मार्च को खुलेगा और शुक्रवार 12 मार्च को बंद होगा। सरकार को उम्मीद है कि अगर एफपीओ 300-350 रुपए के मूल्य दायरे में ऊपर के भाव पर आया तो इस वित्त वर्ष में विनिवेश से धन जुटाने का लक्ष्य पूरा हो जाएगा। विनिवेश सचिव सुमित घोष ने एक समाचार एजेंसी को यह जानकारी दी। सरकार को देश की इस सबसे बड़ी आइरन ओर निर्माता कंपनी के एफपीओ से 11,600 करोड़ हासिल करने की उम्मीद है। इस बीच शेयर बाजार में एनएमडीसी के शेयरों में गिरावट का दौर जारी है। दोपहर 12.30 बजे एनएसई में इसका भाव 376.55 रुपए था जो मंगलवार की तुलना में 6.30 फीसदी की गिरावट दिखाता है। सरकार इस साल अब तक विनिवेश से 13,630 करोड़ रुपए जुटा चुकी है। यह रकम ऑयल इंडिया, एनएचपीसी, एनटीपीसी व रूरल इलेक्ट्रीफिकेशन के शेयरों की बिक्री से जुटाई गई है।

बाजार में गिरावट चल रही है। इससे एक दिन पहले मंगलवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी सूचकांक 5125 के ऊपर पहुंचा तो शॉर्ट सेल करनेवाले कारोबारियों ने सौदे काटने शुरू कर दिए। सीमेंट के शेयर काफी मांग में रहे। खासकर एसीसी, जिसमें शॉर्ट सौदे अब सामने आ चुके हैं। सीमेंट की कीमतें बढ़ने और आईपीएल के वैल्यूएशन से साफ-साफ इंडिया सीमेंट को फायदा मिलेगा। आईपीएल में नई टीमों की नीलामी अब 21 मार्च को होनी है। मुझे लगता है आईपीओ कीमत 40 करोड़ डॉलर आंकी जाएगी। इसमें एक हिस्सा बेचने से इंडिया सीमेंट का फायदा मिलेगा।

जेएलडब्ल्यू स्टील अपनी 10 फीसदी इक्विटी जापान की कंपनी जेएफई को बेचने की तैयारी में है। यह खबर मंगलवार को बाजार खुलने से पहले हमने पेश की जिसे बाद में समाचार चैनलों व एजेंसियों ने पुष्ट किया। इसमें चूंकि ओपन ऑफर लाने की जरूरत नहीं है, इसलिए जेएसडब्ल्यू स्टील के शेयर भावों में फौरन किसी वृद्धि की संभावना नहीं है।

मैंने जब एनएमडीसी के शेयर का भाव बाजार में 445 रुपए चल रहा था, तभी लिखा था कि इसका एफपीओ डिस्काउंट पर आएगा। उसके बाद इसका भाव घटकर 400 रुपए से होते हुए 376 पर आ चुका है और केंद्र सरकार के विनिवेश सचिव चैनलों पर यह बात स्वीकार चुके हैं कि एफपीओ 20-30 फीसदी डिस्काउंट पर आएगा। एनएमडीसी के एफपीओ में रिटेल निवेशकों को 5 फीसदी डिस्काउंट दिया जाएगा, यानी उन्हें इश्यू मूल्य से 5 फीसदी कम दाम देना होगा।

हमने पहले एस्सार ऑयल में खरीदने की सलाह दी थी। आज यह लंदन स्टॉक एक्सचेंज में अच्छे स्तर पर लिस्ट हो गया। एस्सार ऑयल के विदेशी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट होने की खबर सबसे पहले हमने ही ने जाहिर की थी और उसके बाद से इसका शेयर 13 फीसदी बढ़ चुका है। कल निफ्टी फिर बढ़कर खुल सकता है क्योंकि अमेरिकी बाजार में खरीदारी का माहौल है। मेरा अनुमान है कि डाउ जोंस जल्दी ही 11,000 का स्तर छू सकता है।

हमारे शेयर बाजार में एनएमडीसी का इश्यू बंद होने के बाद 15 मार्च के आगे रोलओवर के दौर में गिरावट आ सकती है।

हम क्या कर सकते हैं, यही काफी नहीं होता। कभी-कभी हमें अपनी सामर्थ्य से परे जाकर हालात की मांग को पूरा करना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.