बाजार के लोगों में डर बना हुआ है कि इसमें कभी भी करेक्शन आ सकता है, गिरावट आ सकती है। जब तक लोगों में यह डर कायम है और बहुत सारे शॉर्ट सौदे हुए पड़े हैं, तब तक बड़ा करेक्शन आने की कोई गुंजाइश नहीं है। हां, थोड़ा-बहुत ऊपर नीचे हो ही सकता है। फिर भी सावधानी बरतनी जरूरी है। हेजिंग जरूरी है यानी एक जगह का घाटा दूसरी जगह के भरने का इंतजाम जरूरी है। यकीनऔरऔर भी

इंडियन ऑयल (बीएसई कोड – 530965, एनएसई कोड – IOC) का नाम ही काफी है। लेकिन जानते हैं इसकी सालाना आय कितनी है? 2,69,136 करोड़ रुपए। जिसे हम बार-बार देश की सबसे बड़ी कंपनी कहते हैं, उस रिलायंस इंडस्ट्रीज की सालाना आय है 1,92,461 करोड़ रुपए। हां, बाजार पूंजीकरण में वह जरूर नंबर-वन है क्योंकि उसके शेयर के मूल्य व कुल जारी शेयरों की संख्या का गुणनफल 3,30,230 करोड़ रुपए है, जबकि इंडियन ऑयल का बाजार पूंजीकरणऔरऔर भी

कल माइक्रोसॉफ्ट के अच्छे नतीजों ने अमेरिकी बाजार को टॉप गियर में पहुंचा दिया। लेकिन आज सुबह से ही ईमेल आने शुरू हो गए कि स्पेन के 18 बैंक स्ट्रेस टेस्ट (प्रतिकूल हालात से निपटने की क्षमता की परीक्षा) में फेल हो गए हैं। चेतावनी दी गई कि मेटल सेक्टर गिरनेवाला है। ऐसी तमाम सारी हाय-हाय मचाई गई। आप अच्छी तरह समझ लें कि ये सब मंदड़ियों की कुंठा व हताशा है जो इस तरह की खबरोंऔरऔर भी

अमेरिकी बाजार की हालत खराब, एशिया की हालत खराब, यूरोप की हालत खराब। फिर भी भारतीय बाजार ने आज अपने को टिकाए रखा। क्या इससे साबित होता है कि भारत की दुनिया से डीकपलिंग हो चुकी है, संधि-विच्छेद हो चुका है? यह सच नहीं है। हम कभी भी दुनिया के बाजारों से पूरी तरह जुदा नहीं हो सकते। बाजार में आज गिरावट नहीं आई, बल्कि निफ्टी तो शान से 5400 के पार चला गया। ऐसा इसलिए क्योंकिऔरऔर भी

विम प्लास्ट के पास पुणे मे 70 एकड़ जमीन है। कंपनी ने इसमें से 5 एकड़ जमीन पर एक कमर्शियल प्रोजेक्ट विकसित करने के लिए एक संयुक्त उद्यम पर हस्ताक्षर किए हैं। इस रीयल्टी प्रोजेक्ट से कंपनी के पास भारी कैश इनफ्लो होगा। इस खबर की आहट से ही बीएसई में आज विम प्लास्ट का शेयर 218.70 रुपए का नई ऊंचाई पर पहुंच गया। हालांकि खबर लिखे जाते समय वह कल के बंद भाव से 10.34 फीसदीऔरऔर भी

कल गुरुवार को हमारी शॉपिंग लिस्ट में शामिल दो कंपनियों ने बोनस देने की घोषणा कर दी। सेरा सैनिटरीवेयर ने घोषित किया कि कंपनी का निदेशक बोर्ड 16 जुलाई को अपनी बैठक करेगा, जिसमें एक एजेंडा शेयरधारकों को बोनस शेयर देने का भी है। इसी तरह गिलैंडर्स आर्बुथनॉट ने एलान किया है कि उसका निदेशक बोर्ड 15 जुलाई की बैठक में शेयरधारकों को बोनस देने पर विचार करेगा। दोनों में किसी ने यह नहीं बताया कि वेऔरऔर भी