इस साल का नोबेल शांति पुरस्कार तीन महिलाओं को संयुक्त रूप से दिया गया है। इनमें से एलेन जॉनसन सरलीफ और लेमाह गबोवी लाइबेरिया की हैं, जबकि तवाक्कुल करमान यमन की रहने वाली हैं। पांच सदस्यों वाली नोबेल समिति ने शुक्रवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा है कि इन तीनों ने महिलाओं की सुरक्षा और उनके अधिकारों के लिए जिस तरह से अहिंसक संघर्ष किया है, उसकी वजह से वे इस पुरस्कार की हक़दार हैं। नोबेलऔरऔर भी