ला ओपाला क्रॉकरी और कांच व क्रिस्टल बनी चीजों का ऐसा ब्रांड है जिसकी कोई काट बड़ी मुश्किल है। यह ब्रांड क्वालिटी का पर्याय है। इसके सामान महंगे जरूर हैं। लेकिन देश का बढ़ता मध्य वर्ग इन्हें लपककर खरीदता है। इसे बनानेवाली कंपनी है ला ओपला आरजी लिमिटेड। नाम से लगता है जैसे फ्रांस की कोई कंपनी हो। लेकिन यह पूरी तरह देशी कंपनी है। सुशील झुनझुनवाला इसके प्रबंध निदेशक हैं जो राकेश झुनझुनवाला के रिश्तेदार नहींऔरऔर भी

इजरायल के वैज्ञानिक डेनियल शेख्तमैन को रसायन शास्त्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए वर्ष 2011 का नोबेल पुरस्कार दिया गया है। इजरायल प्रौद्योगिकी संस्थान से जुड़े शेख्तमैन ने अप्रैल 1982 में क्रिस्टल में परमाणु संरचना की खोज की। उनकी खोज का सार यह है कि क्रिस्टल में परमाणु ऐसे पैटर्न में गुंथे हैं जहां कोई दोहराव नहीं होता। समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक स्टॉकहोम स्थित रॉयल स्वीडिश एकेडमी आफ साइंस के स्थायी सचिव स्टैफन नॉरमार्क ने एकऔरऔर भी

हर शब्द के साथ कोई न कोई छवि या  पूर्वाग्रह जुड़ा है। शब्दों के परे वह अवस्था है जब हम शुद्ध क्रिस्टल की तरह निर्मल व पारदर्शी बन जाते है। पर वहां शब्दों से भागकर नहीं, मथकर ही पहुंचा जा सकता है।और भीऔर भी