देश की रक्षा कौन करेगा? हम करेंगे, हम करेंगे, हम करेंगे! गांवो, कस्बों और शहरों के हिंदी माध्यम स्कूलों में बच्चे यह नारा लगाकर ही बड़े होते हैं। कहीं और नौकरी नहीं मिली और सेना में भर्ती हो गए तो सीमा पर हंसते-हंसते शहीद हो जाते हैं। मां-बाप, बीवी-बच्चे बिखर जाते हैं, बिलखते जरूर हैं। पर घर-परिवार, नाते-रिश्तेदार उन पर गर्व करते हैं। इलाके में उनके नाम पर सड़क और विद्यालय बन जाते हैं। लेकिन भावना सेऔरऔर भी

भारत पूरी तरह 26 जनवरी 1950 को ही आज़ाद हुआ क्योंकि 15 अगस्त 1947 को आजादी मिलने के बाद करीब ढाई साल तक देश ब्रिटिश राज का स्वतंत्र उपनिवेश या डोमिनियन बना रहा। असल में 26 नवंबर 1946 को भारत की संविधान सभा की पहली बैठक हुई थी जिसने 26 नवंबर 1949 तक संविधान तैयार कर दिया गया और अपना भी लिया। संविधान पर अमल 26 जनवरी 1950 से शुरू हुआ और भारत एक संप्रभु व लोकतांत्रिकऔरऔर भी