लगे रहने से भगवान के सिवा सब कुछ मिल जाता है। भगवान भी इसलिए नहीं क्योंकि उसे खोजते-खोजते तो हम अपनी ही गुप्त गुफाओं में पहुंचकर अपने ही भव्य व विराट स्वरूप के सामने आ खड़े होते हैं।और भीऔर भी