इस समय एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का टैक्स आयकर विभाग इसलिए नहीं वसूल पा रहा है क्योंकि उसके पास ऐसे कर-चोरों का सही पता-ठिकाना नहीं है। आयकर विभाग इन लोगों तक पहुंचने के लिए अब इनके नाम और पुराने पते अखबारो में छापने पर गौर कर रहा है। हालांकि इसमें यह भी दिक्कत आ रही है कि इनमें बहुत सारे डिफॉल्टरों ने बेनामी संपत्तियां खड़ी कर रखी हैं। इसलिए उनका नाम भी गलत है। इसऔरऔर भी