हमने तो कर दिया, कहने से काम नहीं चलता। काम को अंजाम तक पहुंचाना होता है। यह सुनिश्चित करना बीज फेंकनेवाले का दायित्व है कि बीज मिट्टी में पहुंचकर अंकुर और फिर अंकुर से पौधा बना कि नहीं।और भीऔर भी