बाजार में निराशावादी अब भी मंदड़ियों की पताका लहरा रहे हैं। हर बढ़त का इस्तेमाल नए शॉर्ट सौदों के लिए किया जा रहा है। मुझे पक्का नहीं है कि एफआईआई आगे क्या करने जा रहे हैं क्योंकि वे विशुद्ध ट्रेडर बन चुके हैं और ऑप्शन प्रणाली के जरिए ट्रेडिंग के लिए अल्गोरिथम का इस्तेमाल कर रहे हैं। हालांकि उन्हें आखिरकार इसमें नुकसान ही उठाना पड़ेगा क्योंकि भारतीय बाजार में वो गहराई व विस्तार नहीं है जहां अल्गोरिथमऔरऔर भी

पूंजी बाजार नियामक संस्था, सेबी ने हाल ही में आईपीओ लानेवाली कंपनी वासवानी इंडस्ट्रीज की लिस्टिंग पर रोक लगा दी है। वासवानी इंडस्ट्रीज का आईपीओ 29 अप्रैल को खुलकर 3 मई को बद हुआ था। इसके तहत कंपनी ने अपने एक करोड़ शेयर 45 से 49 रुपए के मूल्य-दायरे में जारी किए थे। सेबी ने गुरुवार को देर रात जारी की गई सूचना में कहा है कि इश्यू के बंद होने के बाद आईपीओ के सब्सक्रिप्शन मेंऔरऔर भी