संकट से घिरे ओबामा अब बस से करेंगे दौरा

अमेरिका में भी राजनीतिक शोशेबाजी कम नहीं है। राष्ट्रपति बराक ओबामा ने घोषित किया है कि वे तीन राज्यों का दौरान सरकारी लाव-लश्कर के साथ नहीं, बल्कि बस से करेंगे। उनके एक सहयोगी के मुताबिक इसका उद्देश्य अवाम की आर्थिक दिक्कतों को समझना और उन्हें अर्थव्यवस्था के संकट के प्रति जागरूक बनाना है।

असल में अगले साल अमेरिका में राष्ट्रपति के चुनाव होने हैं और ओसामा बिन लादेन के संहार के बावजूद ओबामा की लोकप्रियता अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है। इस बीच स्टैंडर्ड एंड पुअर्स द्वारा देश की रेटिंग घटाकर एएए से एए+ कर देने से उनकी साख को और बट्टा लग गया है।

इन हालात में राजनीतिक विश्लेषकों ने ओबामा के बस दौरे को चुनाव से पूर्व लोगों से सम्पर्क करने का सीधा अभियान करार दिया है। दूसरी तरफ व्हाइट हाउस का कहना है कि बस यात्रा के दौरान राष्ट्रपति अर्थव्यवस्था के विकास, मध्यम वर्ग को मजबूत बनाने और देश के विभिन्न समुदायों के लोगों को सीधे रोजगार देने के उपायों पर चर्चा करेंगे।

ओबामा की यह बस यात्रा 15 अगस्त से शुरू होकर 17 अगस्त को समाप्त होगी। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जे कार्नी का कहना है कि राष्ट्रपति देश का दौरा करने के बारे में काफी उत्साहित हैं। उन्होंने यहां वाशिंगटन और व्हाइट हाउस में काफी समय बिताया है। अब वे मध्य-पश्चिम राज्यों के लोगों से यह जानने की कोशिश करेंगे कि आर्थिक विकास व रोजगार सृजन वगैरह के बारे में सरकार के उनकी क्या उम्मीदें हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *