कंप्यूटर पर हिंदी का प्रयोग बढ़ाएगी सरकार

सरकार ने सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनियों के कहा कि वे कंप्यूटर पर काम करने के लिए इनपुट, प्रदर्शन व ट्रांजैक्शन तीनों सुविधाएं पूरी तरह हिंदी व अन्य भारतीय भाषाओं में यूजर फ्रेंडली सॉफ्टेवयर उपलब्ध कराएं। गुरुवार को गृह राज्यमंत्री अजय माकन ने सी-डैक, माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन और आईबीएम के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में यह बात कही। बैठक में हिंदी के लिए सूचना प्रौद्योगिकी के प्रयोग के संबंध में गठित समितियों के सदस्यों और राजभाषा विभाग के अधिकारियों ने भी शिरकत की।

बैठक में सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनियों से कहा गया कि वे अपने सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल अंग्रेजी के साथ हिंदी में उपलब्ध कराने के काम को प्राथमिकता दें और भारतीय भाषाओं में कंप्यूटिंग उतनी ही आसान बनायी जाए जितनी यह अंग्रेजी में उपलब्ध करायी गई है। साथ ही हिंदी प्रयोग के लिए सॉफ्टवेयर सुविधाओं की उपलब्धता, भविष्य में इन सुविधाओं से अपेक्षा और उपलब्ध स्तरीय सुविधाओं के प्रचार-प्रसार के उपायों पर चर्चा की गई। बैठक के दौरान अरविंद कुमार द्वारा तैयार किए गए अंग्रेजी-हिंदी शब्दकोष से कंप्यूटराइज्ड संस्करण का प्रदर्शन भी किया गया।

बता दें कि कंप्यूटर पर हिंदी प्रयोग बढ़ाने के उपाय सुझाने के लिए गृह मंत्रालय के राजभाषा विभाग ने तीन अलग-अलग समितियां बना रखी हैं। इन समितियों ने पहले चरण का काम पूरा कर लिया है। इसी के बाद अजय माकन ने समिति के सदस्यों, राजभाषा विभाग के अधिकारियों और प्रमुख सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।

1 Comment

  1. उक्त प्रयास सही दिशा ,मे है बशर्त्ते कि इस् कार्य मे देश् भर के राजभाषा से जुडे सरकारी लोग भी सहयोग करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *